शुक्रवार, 7 फ़रवरी 2020

ठाकुर राधागोपीनाथ का प्राकट्य महोत्सव 9 फरवरी को मनेगा

वृन्दावन के प्राचीन सप्त देवालयों में से एक राधागोपीनाथ मन्दिर में माघ शुक्ल पुर्णिमा 9 फरवरी को भगवान राधागोपीनाथ का प्राकट्य महोत्सव विभिन्न धार्मिक आयोजनों के मध्य मनाया जायेगा
मन्दिर के सेवायत राजा गोस्वामी ने बताया भगवान राधागोपीनाथ का प्राकट्य लगभग 1536 ईसवीं में माघ शुक्ल पुर्णिमा तिथि को हुआ था। जन-जन के आराध्य राधागोपीनाथ मधु पण्डित महाराज के सेवित ठाकुर हैं।

ठाकुर राधागोपीनाथ 
                         प्राकट्य महोत्सव की जानकारी देते मन्दिर के सेवायत राजा गोस्वामी 


रविवार को होने वाले प्राकट्य महोत्सव के उपलक्ष्य में प्रात: 10 बजे भगवान राधागोपीनाथ का पञ्चामृत दूध, दहि, घृत, शहद और शक्कर से मन्त्रोंच्चारों के मध्य महाभिषेक किया जायेगा। इसके पश्चात् ठाकुरजी का विशेष शृङ्गार करने के साथ नवीन पोशाक धारण करायी जायेगी। समाज गायन और हरिनाम सकीर्तन किया जायेगा। इसके पश्चात् साधु और वैष्णव सेवा की जायेगी और भगवान का प्रसाद वितरित किया जायेगा। शाम को मन्दिर परिसर में स्थित मधु पण्डित जी की समाधि पर पुष्पार्चन किया जायेगा।भगवान को भोग लगाने के बाद भण्डारा किया जायेगा। इस महोत्सव में देशी-विदेशी भक्तजन शामिल होंगे।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें