बुधवार, 11 मार्च 2020

श्री बाँकेबिहारी के दर्शन, आरतियों के समय में हुआ परिवर्तन

वृन्दावन के सुप्रसिद्ध बाँकेबिहारी मन्दिर में चैत्र माह कृष्ण पक्ष द्वितीया तिथि से ठाकुर श्री बाँकेबिहारी के दर्शनों और आरतियों के समय में परिवर्तन हो गया है। निर्धारित ग्रीष्मकालीन समय के अनुसार मन्दिर के पट अब प्रात: जल्द और संध्या के समय देरी से खुलेंगे। 

श्री बाँकेबिहारी मन्दिर के गर्भगृह के पट
बाँकेबिहारी मन्दिर प्रबन्धन द्वारा बृज में होली का त्यौहार मानते ही ठाकुर बाँकेबिहारी मन्दिर के ग्रीष्मकालीन समय में परिवर्तन किया गया है। होली की दौज यानि चैत्र कृष्ण पक्ष द्वितीया तिथि बुधवार को श्री बाँकेबिहारी मन्दिर के पट अपने बदले समय अनुसार खुले। मन्दिर के प्रबन्धक प्रशासन मुनीष शर्मा ने बताया कि प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष भी बाँकेबिहारी मन्दिर का ग्रीष्म कालीन समय परिवर्तन किया गया है, जो कि निम्न प्रकार है।

प्रात:कालीन दर्शनों का समय 

प्रात: दर्शन – प्रात: 07:45 से मध्यान 12 बजे तक
शृङ्गार आरती – प्रात: 07:55 बजे
राज भोग आरती – मध्यान 11:55 बजे

संध्याकालीन दर्शनों का समय 

संध्या दर्शन – संध्या 05:30 से 09:30 बजे तक
शयन भोग आरती – रात्रि 09:25  



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें