गुरुवार, 5 मार्च 2020

कोरोना वायरस के खतरे को लेकर इस्कॉन मन्दिर प्रबन्धन सतर्क

मन्दिर के अध्यक्ष ने की स्वास्थ्य टीम तैनात

देश-दुनिया में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुये वृन्दावन के इस्कॉन मन्दिर में भी वायरस संक्रमण को लेकर सावधानी बरती जा रही है। इस्कॉन मन्दिर प्रबन्धन ने मन्दिर में प्रवेश करने से पहले कोरोना वायरस की जांच के लिये स्वास्थ्य टीम की तैनाती कर दी है।

इस्कॉन मन्दिर, वृन्दावन 
वृन्दावन के सुप्रसिद्ध इस्कॉन यानि कृष्ण बलराम मन्दिर में 9 मार्च को होने वाले गौर पूर्णिमा महोत्सव के लिये देश-विदेश से श्रद्धालुओं के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। देश-विदेश से आ रहे श्रद्धालुओं को देखते हुये इस्कॉन मन्दिर प्रबन्धन द्वारा सतर्कता बरती जा रही है। 

इस्कॉन मन्दिर के अध्यक्ष पंचगौड़ा दास ने भक्तों से अपील की है कि जो भी भक्त कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, मन्दिर में प्रवेश न करें। विशेषकर वह भक्तगण जो विदेशों से आ रहे हैं, अपनी स्वास्थ्य जांच कराकर ही मन्दिर में प्रवेश करें। मन्दिर के अध्यक्ष ने कहा कि यदि मन्दिर में कोरोना वायरस फैला तो प्रभु की सेवा-पूजा प्रभावित हो सकती है। मन्दिर की तरफ से एक मेडिकल टीम लगायी गयी है जो कि कोरोना वायरस पर नजर रखे हुये है। उन्होंने कहा कि वैसे तो भक्तगण पूरी तरह भगवान कृष्ण पर निर्भर हैं, परन्तु अपनी तरफ से पूरी सतर्कता रखना चाहते हैं।
 
फोटो सौजन्य: इस्कॉन मन्दिर फेसबुक ग्रुप

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें